गुरुवार, 13 अगस्त 2009

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएँ


स्वतंत्रता दिवस की अनेक शुभकामनाएँ! अमर रहे गणतंत्र हमारा! हमारी भाषा, साहित्य व संस्कृति का विकास हो और हम दुनिया में ऐसे काम कर जाएँ जिससे अपनी पारंपरिक संस्कृति के साथ-साथ वर्तमान उन्नति पर भी गर्व कर सकें। इस स्वतंत्रता दिवस पर इसी संकल्प के साथ आगे बढ़ने की ढेर सी शुभकामनाएँ एक बार फिर!

स्वतंत्रता दिवस के साथ ही आती है अभिव्यक्ति की वर्षगाँठ! आज अभिव्यक्ति अपने कार्य काल के नौ वर्ष पूरे कर दसवें वर्ष में कदम रख रही है। १५ अगस्त २००० को इसका पहला अंक मासिक पत्रिका के रूप में प्रकाशित हुआ था। १ जनवरी २००१ से यह पाक्षिक बनी। १ मई २००२ से यह माह में चार बार १-९-१६ और २४ तारीख को प्रकाशित होने लगी। लंबे समय तक इसी स्थिति में रहने के बाद १ जनवरी २००८ से यह साप्ताहिक रूप में हर सोमवार को प्रकाशित होती है। आज वेब पर हिन्दी पत्रिकाओं की भरमार के बावजूद हमारे पाठकों की संख्या में विस्तार हो रहा है यह उत्साह की बात है। पत्रिका की टीम का सबसे बड़ा हिस्सा तो पाठक ही होते हैं इसलिए इस शुभ अवसर पर सभी पाठकों को हार्दिक धन्यवाद जिनके निरंतर स्नेह से आज हम यहाँ पहुँचे हैं। यह आपकी पत्रिका है और उसको स्तरीय बनाए रखने में आपका सहयोग महत्वपूर्ण है। किसी भी क्षेत्र में कुछ सहयोग या सुझाव देना चाहते हैं तो आपका सदा स्वागत है। टीम में मेरे विनम्र और कर्मठ स्थायी सहयोगी प्रो. अश्विन गांधी और दीपिका जोशी के सतत प्रयत्नों के बिना इस पत्रिका के साथ इतना लंबा चलना संभव नही था। उनके लिए धन्यवाद या आभार शब्द बहुत छोटे हैं फिर भी मेरा हार्दिक आभार। प्रार्थना है कि सब सदा साथ रहें और इस यज्ञ में अग्नि प्रज्वलित रखें।

वर्षगाँठ के इस उत्सव पर हम पाठकों के लिए कुछ विशेष उपहार लाने वाले हैं। हिंदी ब्लाग टिप्स के आशीष खंडेलवाल के प्रयत्नों से 'आज का विचार' इस अंक से नए प्रारूप में प्रस्तुत है। अब जितनी बार पत्रिका अपलोड होगी हर बार नया विचार दिखाई देगा। (और हाँ यह तिरंगा भी उन्हीं के सौजन्य से।)

इस वर्ष हम सबकी प्रिय कथा लेखिका सुषम बेदी ने अभिव्यक्ति में दस कहानियाँ पूरी की हैं। कथा-प्रेमी पाठकों के लिए अगले अंक में प्रस्तुत करेंगे उनकी कहानियों का एक आकर्षक पीडीएफ़ संग्रह। इसे डाउनलोड परिसर से मुफ़्त डाउनलोड किया जा सकेगा है। अभिव्यक्ति के रंगरूप में भी कुछ परिवर्तन किए गए हैं। आकार को लंबाई में थोड़ा कम और चौड़ाई में बढ़ाया गया है जिससे पृष्ठ को ज्यादा नीचे तक न ले जाना पड़े। नया अंक तीन में से बीच के कॉलम में है। पुराना दाहिनी ओर तथा मनोरंजन और जानकारियाँ बिलकुल बाएँ स्तंभ में है। आशा है पाठक इन परिवर्तनों के संबंध में अपनी राय और सुझाव भेजते रहेंगे।

12 टिप्‍पणियां:

समयचक्र : महेन्द्र मिश्र ने कहा…

आपको भी जन्माष्टमी स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामना

संजीव गौतम ने कहा…

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं आपको भी और अनुभुति/अभिव्यक्ति की पूरी टीम को भी.

विनय ‘नज़र’ ने कहा…

बहुत अच्छी पोस्ट है, जय श्री कृष्ण! जय हिन्द!

Mithilesh dubey ने कहा…

आपको जन्माष्टमी, स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामना

cmpershad ने कहा…

स्वतंत्रता दिवस के साथ-साथ अभिव्यक्ति की वर्षगांठ की शुभकामनाएँ॥

सुशीला पुरी ने कहा…

आपको भी गिरधर गोपाल के जनम की बधाई और स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनायें ......''अभिव्यक्ति'' के लिए मेरी हार्दिक शुभकामनायें .

विनय ‘नज़र’ ने कहा…

श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ। जय श्री कृष्ण!!
----
INDIAN DEITIES

creativekona ने कहा…

पूर्णिमा जी,
स्वतन्त्रता दिवस के साथ ही अभिव्यक्ति के दस साल पूरे होने की धेर सारी बधाई स्वीकार करें।
उम्मीद है आगे भी अभिव्यक्ति नेट की अग्रणी पत्रिका रहेगी।
हेमन्त कुमार

Upasthit ने कहा…

Abhivyakti team ko badhaeyan...

रचना गौड़ ’भारती’ ने कहा…

आज़ादी की 62वीं सालगिरह की हार्दिक शुभकामनाएं। इस सुअवसर पर मेरे ब्लोग की प्रथम वर्षगांठ है। आप लोगों के प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष मिले सहयोग एवं प्रोत्साहन के लिए मैं आपकी आभारी हूं। प्रथम वर्षगांठ पर मेरे ब्लोग पर पधार मुझे कृतार्थ करें। शुभ कामनाओं के साथ-
रचना गौड़ ‘भारती’

दिगम्बर नासवा ने कहा…

श्री कृष्ण janmashtmi, स्वतन्त्रता दिवस के साथ साथ अभिव्यक्ति के दस साल पूरे होने की बहुत बहुत बधाई ........
आशा है हमेशा की तरह अभिव्यक्ति नेट की अग्रणी पत्रिका बनी रहेगी...................

गौतम राजरिशी ने कहा…

अरे ये तो मुझे इतने देर से पता चला कि हमारी प्यारी-दुलारी अभिव्यक्ति ने नौ साल पूरे कर लिये।

पूरी टीम को बधाई!